जी 20 के सफल आयोजन के लिए फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों ने भारत की जमकर सराहना की !!!

भारत की अध्यक्षता में नई दिल्ली में आयोजित दो दिवसीय जी-20 शिखर सम्मेलन का आज यानी रविवार को समापन हो गया. कई विदेशी मेहमान अपने देश लौट चुके हैं, कई लौटने की तैयारी में हैं.इसी कड़ी में सम्मेलन में हिस्सा लेने आये फ्रांस के राष्ट्रपति में आयोजन की जमकर तारीफ की. उन्होंने कहा कि भारत ने जी 20 अध्यक्ष के रूप में बेहतर प्रदर्शन किया है.वहीं, जी 20 सम्मेलन से इतर पीएम मोदी ने फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों से द्विपक्षीय वार्ता की. इधर, पीएम मोदी ने सोशल मीडिया एक्स पर मुलाकात के बाद लिखा है कि राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के साथ दोपहर के भोजन के समय बहुत ही सार्थक बैठक हुई. पीएम मोदी ने कहा कि हमने कई विषयों पर चर्चा की और यह सुनिश्चित करने के लिए तत्पर हैं कि भारत-फ्रांस संबंध प्रगति की नई ऊंचाइयों को छुए.जी 20 के सफल आयोजन के लिए फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों ने भारत की जमकर सराहना की है. जी 20 सम्मेलन के दूसरे दिन फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों ने कहा कि भारत ने जी 20 अध्यक्ष के रूप में बेहतर प्रदर्शन किया है. उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में भारत के साथ रक्षा सहयोग को और विकसित करेंगे. मैक्रों ने यह भी कहा कि अतिरिक्त अनुबंध और खरीद को आने वाले महीनों और सालों में मजबूत की जाएगी. मैक्रों ने कहा कि जी20 में देशों की संप्रभुता, क्षेत्रीय अखंडता के सिद्धांतों को बरकरार रखने की बात कही गई है. उन्होंने कहा कि हम अंतरराष्ट्रीय संस्थानों में गहन सुधार का समर्थन करते हैं.फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने कहा कि हम अंतरराष्ट्रीय संस्थानों में गहन सुधार का समर्थन करते हैं ताकि वे दुनिया की मौजूदा वास्तविकता को प्रतिबिंबित कर सकें. वहीं, उन्होंने रूस के साथ यूक्रेन की जारी जंग को लेकर कहा कि जी20 शिखर सम्मेलन यूक्रेन में न्यायसंगत और स्थायी शांति के लिए प्रतिबद्ध है. इस दौरान उन्होंने कहा कि हालांकि जी 20 राजनीतिक चर्चाओं का मंच नहीं है, जी 20 के ज्यादातर सदस्य देशों ने यूक्रेन पर रूसी हमले की निंदा की है. जी 20 को इन मुद्दों में नहीं फंसना चाहिए. उन्होंने कही कि जी 20 में देशों की संप्रभुता, क्षेत्रीय अखंडता के सिद्धांतों को बरकरार रखने की बात की गई है.राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के साथ वार्ता के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के साथ दोपहर के भोजन के समय एक बहुत ही सार्थक बैठक हुई. पीएम मोदी ने कहा कि हमने कई विषयों पर चर्चा की. हम यह सुनिश्चित करने के लिए तत्पर हैं कि भारत-फ्रांस संबंध प्रगति की नई ऊंचाइयों को छुए. वहीं, फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन ने कहा कि मैं पीएम मोदी को धन्यवाद देता हूं. भारत ने जी-20 की अध्यक्षता के दौरान एकता और शांति का संदेश देने की पूरी कोशिश की, जबकि रूस अभी भी यूक्रेन पर अपनी आक्रामकता जारी रखे हुए है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.