उत्तराखंड का रामनगर जी-20 मुख्य विज्ञान सलाहकार गोलमेज सम्मेलन की मेजबानी के लिए तैयार

उत्तराखंड 27 मार्च 2023:  उत्तराखंड  का रामनगर जी-20 मुख्य विज्ञान सलाहकार गोलमेज (सीएसएआर) सम्मेलन की मेजबानी के लिए तैयार है। इसमें अमेरिका और जापान सहित विभिन्न देशों के लगभग 100 मुख्य वैज्ञानिक सलाहकार भाग लेंगे। प्रतिनिधि कल यानी 28 मार्च की शाम को वायुयान से पंतनगर एयरपोर्ट पहुंचकर सड़क मार्ग से रामनगर पहुंचेंगे, जहां जिम कॉर्बेट राष्ट्रीय उद्यान की सीमा पर स्थित ढिकुली गाने के ताज रिजॉर्ट में यह सम्मेलन होगा। इस अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन के लिए सजावट और सुरक्षा को लेकर खासे प्रबंध किए गए हैं।  अगले दिन 29 मार्च यानी बुधवार से मेहमानों के स्वागतोपरान्त इस वैज्ञानिक सलाहकार सम्मेलन की विधिवत शुरुआत होगी। इसकी थीम विज्ञान के माध्यम से समाधान रखी गई है। मुख्य विज्ञान सलाहकार गोलमेज बैठक वैज्ञानिक अनुसंधान, प्रौद्योगिकी विकास और परिनियोजन से संबंधित मुद्दों के समाधान प्राप्त करने का प्रयास करेगी। भारत की जी-20 अध्यक्षता के दौरान महामारी के बाद हो रहे इस अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में इस बात पर फोकस किया जाएगा कि बेहतर रोग नियंत्रण और महामारी की तैयारी के लिए वन हेल्थ में अवसर मिलें, स्कॉलर्स के वैज्ञानिक ज्ञान तक पहुंच बढ़ाने के लिए वैश्विक प्रयासों को सक्रिय करना, विज्ञान और प्रौद्योगिकी (एस एंड टी) में विविधता, इक्विटी, समावेशन और पहुंच के अलावा समावेशी, निरंतर और क्रिया-उन्मुख वैश्विक विज्ञान और प्रौद्योगिकी नीति संवाद के लिए एक संस्थागत तंत्र तैयार करने पर चर्चा होगी। इसके तहत एक प्रभावी और सुसंगत वैश्विक विज्ञान सलाहकार तंत्र स्थापित करने में भी मदद मिलेगी। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी इस सम्मेलन की तैयारियों की व्यवस्थाओं की खुद समीक्षा कर रहे हैं। जी-20 की तैयारियों में जुटा प्रशासनिक अमला किसी भी तरह की कोर कसर नहीं छोड़ना चाहता। प्रतिनिधियों के आवागमन के काॅरिडोर पर सड़कें चकाचक की गई हैं और दीवारों पर उत्तराखंड की लोक संस्कृति पर आधारित वॉल पेंटिंग्स बनाई गई हैं। सुरक्षा को लेकर पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। दो जिलों के करीब 2,000 से अधिक पुलिस कर्मियों और अधिकारियों को ड्यूटी पर लगाया गया है।

रामनगर में आईजी कुमाऊं डॉक्टर नीलेश आनंद भरणे ने राजकीय महाविद्यालय के सभागार में पुलिस कर्मियों की ब्रीफिंग करते हुए पुलिस कर्मियों को ड्यूटी में किसी भी प्रकार की लापरवाही ना बरतने के निर्देश देते हुए चेतावनी दी है और ड्यूटी के दौरान किसी भी प्रकार की कोई लापरवाही करने पर संबंधित पुलिसकर्मी के खिलाफ कार्रवाई करने के साथ ही उसे सस्पेंड भी किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि उत्तराखंड के लिए गौरव की बात है कि यहां पर जी-20 जैसा आयोजन हो रहा है, जिसमें कई देश और विदेश के डेलिगेट्स भाग ले रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.